Ration Card है तो दुकान जाने की जरूरत नहीं, घर बैठे आएगा राशन, इस सरकारी योजना का उठाएं फायदा

0

Ration Card App: जिस डरावने तरीके से देश में कोरोना की दूसरी लहर फैल रही है, ऐसे में घर से बाहर निकला कतई सुरक्षित नहीं है. लेकिन राशन के लिए घर से निकलना मजबूरी है और राशन की लाइनों में खड़ा होना खतरे से खाली नहीं. 

App पर बुकिंग और घर बैठे आएगा राशन 

ऐसे में मोदी सरकार ने लोगों को बड़ी सहूलियत दी है. आप घर बैठे ही अपने मोबाइल से राशन का ऑर्डर दे सकते हैं. के जरिए ही राशन बुक कर सकते हैं. सरकार ने एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है, जिसका नाम है Mera Ration app. ये मोबाइल ऐप सरकार की ओर से शुरू की गई वन नेशन वन राशन कार्ड योजना की पहल का हिस्सा है. तो चलिए इस ऐप के बारे में आपको बताते हैं, डाउनलोड से लेकर राशन ऑर्डर करने तक की पूरी प्रक्रिया अच्छे से समझते हैं.

स्टेप नंबर 1-

Mera Ration app कैसे डाउनलोड करें – सबसे पहले अपने मोबाइल में आप Google Play Store पर जाएं. इसके सर्च बॉक्स में Mera Ration app सर्च करें. Mera Ration app ऐप को इंस्टॉल करें

स्टेप नंबर 2-

Mera Ration app में रजिस्ट्रेशन – ऐप डाउनलोड होने के बाद आपको इसमें अपना राशन कार्ड रजिस्टर्ड करना होता है. इसके लिए सबसे पहले ऐप को खोलें. आपको Registration का ऑप्शन दिखेगा उसे क्लिक करें. अपना राशन कार्ड नंबर इसमें डालें फिर Submit बटन को दबा दें. 

Mera Ration ऐप के फायदे

इस मोबाइल ऐप का फायदा सबसे ज्यादा उन लोगों को होगा जो एक शहर से दूसरे शहर रोजगार के लिए जाते हैं. दूसरे शहरों में उन्हें राशन की दुकानों का पता नहीं होता, इस ऐप में उन दुकानों की पूरी जानकारी भी मिलेगी. राशन कब और कितना आएगा इसकी पूरी जानकारी मिलेगी. साथ ही आपको कितना राशन मिलेगा ये भी जानकारी इस ऐप के जरिए मिल जाएगी. आप अपने पिछले लेन-देन की जानकारी भी इस App के जरिए जान सकते हैं. ये ऐप अभी हिंदी और अंग्रेजी भाषा में उपलब्ध है, जल्द ही अन्य 14 भाषाओं में भी उपलब्ध कराया जाएगा. सबसे बड़ी बात कि, इस ऐप से यह भी जानकारी मिलेगी की कब-कब और किस दुकान से राशन लिया है.

32 राज्य राशन ऐप से जुड़े 

आपको बता दें कि कोरोना काल में प्रवासी मजदूरों को राशन के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ा था. तब केंद्र सरकार ने देश के नागरिकों के लिए ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ योजना लांच की. इस योजना के लागू होने से अब देश का कोई भी नागरिक देश के किसी भी कोने से राशन ले सकता है. दिसंबर, 2020 तक इस योजना से सिर्फ 12 राज्यों को ही जोड़ा जा सका था. अब इस योजना से 32 राज्यों को जोड़ा जा चुका है. 

Share.

About Author

Leave A Reply