कोरोना वायरसः नेपाल में हफ्तेभर का बंद

0

तेज़ी से फैल रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए नेपाल में मंगलवार से हफ्तेभर का बंद (लॉकडाउन) शुरू हो गया। यह वायरस दुनिया भर में करीब 17000 लोगों की जान ले चुका है
और इससे 3.8 लाख लोग संक्रमित हैं। पांबदियों के पहले दिन बाजार बंद थे और सड़कें सुनी पड़ी थी। सिर्फ सुरक्षा बलों और मेडिकल कर्मियों की गाड़ियां ही सड़क पर दिख रही थी। कोविड-19 की रोकथाम और नियंत्रण के लिए उप प्रधानमंत्री ईश्वर पोखरेल के नेतृत्व वाली उच्च स्तरीय समिति की बैठक में देशभर में बंद करने का निर्णय हुआ। यह बैठक काठमांडू में कोरोना वायरस के दूसरे मामले की पुष्टि होने के कुछ घंटों बाद हुई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की सलाह के बाद, नेपाल सरकार ने कोरोना वायरस के संभावित प्रसार को रोकने के लिए बंद लागू किया। सरकार ने लोगों से घरों में रहने की अपील की। हालांकि दवाई की दुकानें और गैस स्टेशनखुले रहेंगे। बंद का उल्लंघन करने पर एक हजार रुपये का जुर्माना और जेल या दोनों हो सकती हैं। नेपाल सरकार ने मंगलवार को जमीनी रास्ते से भारत से नेपाल के नागरिकों को लौटने की इजाजत देने का फैसला किया। वे मंगलवार शाम तक ही वापस आ सकते हैं और उन्हें 14 दिनों के लिए अलग रहना होगा।

Share.

About Author

Leave A Reply