भूटान : मैले ना हो जाएं पत्नी के पैर इसलिए पूर्व पीएम ने उन्हें उठा लिया पीठ पर

0

आपको बॉलीवुड की फिल्म पाकीजा का वह मशहूर डायलॉग याद होगा जिसमें अभिनेता राजकुमार हिरोइन मीना कुमारी से कहते हैं, ‘आपके पांव देखे, बहुत हसीन हैं, इन्हें जमीन पर मत रखियेगा मैले हो जाएंगे।’ मोहब्बत की ऐसी ही एक और मिसाल पड़ोसी देश भूटान में देखने को मिली। भूटान के पूर्व प्रधानमंत्री शेरिंग तोगबे की एक तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस फोटो में वह अपनी पत्नी के पैर कीचड़ में गंदे होने से बचाने के लिए कंधे पर ले जा रहे हैं। इस तस्वीर को उन्होंने खुद शेयर किया है।

इस तस्वीर के साथ शेरिंग तोगबे ने लिखा है, ‘सर वाल्टर रैले की तरह डैशिंग तो नहीं, लेकिन अपनी पत्नी के नाजुक पैरों को साफ रखने के लिए एक आदमी को वहीं करना चाहिए जो उससे उम्मीद है।’ गौरतलब है कि पूर्व पीएम ने सर वाल्टर रैले की कहानी का जिक्र किया। वहीं लोग उनके प्यार की जमकर तारीफ कर रहे हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री शेरिंग तोगबे ने यह फोटो 12 सितंबर को ट्विटर पर शेयर की थी। इस तस्वीर में शेरिंग एक कीचड़ से भरे रास्ते पर अपनी पत्नी ताशी दोमा को कंधे पर ले जा रहे हैं। लोग शेरिंग तोगबे की इस तस्वीर को न केवल शेयर कर रहे हैं बल्कि उनकी तारीफ भी कर रहे हैं। शेरिंग तोबगे भूटान की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता है। जो साल 2013 से 2018 तक भूटान के प्रधानमंत्री रहे। उनकी पार्टी भूटान की पहला रजिस्टर्ड दल है।

ऐसा कहा जाता है कि अंग्रेजी लेखक सर वाल्टर रैले ने रानी एलिजाबेथ के पैरों को गंदे होने से बचाने के लिए सड़क पर अपना लबादा (कपड़े) बिछा दिए थे। वह रानी के सबसे भरोसेमंद लोगों में से एक थे। हालांकि बाद में उन्हें एक नौकरानी के साथ अफेयर के कारण सजा सुनाई गई और लंदन के टॉवर में कैद किया गया। 1592 में उनका सिर कलम कर दिया गया था। इस बात में कितनी सच्चाई है , शायद ही किसी को पता है।

Share.

About Author

Leave A Reply