बुधवार को पाकिस्‍तान खोलेगा करतारपुर कॉरिडोर, पीएम इमरान भी रहेंगे मौजूद

0

बुधवार को पाकिस्‍तान, करतारपुर कॉरिडोर को खोलेगा और इस मौके पर प्रधानमंत्री इमरान खान मौजूद रहेंगे। इमरान की सरकार में सूचना और प्रसारण मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने इस बात की जानकारी दी। उन्‍होंने कहा कि कैबिनेट ने भारत की ओर से की करतारपुर कॉरिडोर को खोलने के अनुरोध का मान लिया है। अब भारत में बसे सिख श्रद्धालुओं को करतारपुर साहिब के दर्शन करने में आसानी होगी।

फवाद ने बताया कि कैबिनेट की मंजूरी के बाद भारत के सिख श्रद्धालुओं को वीजा फ्री एंट्री दी जाएगी। इस बाबत एक सिस्‍टम तैयार किया जाएगा और जल्‍द ही इस पर फैसला लिया जाएगा। फवाद ने कहा कि कॉरतारपुर कॉरिडोर पाकिस्‍तान की ओर से की गई शांति एक पहल है। इसका मकसद भारत के साथ संबंधों को सामान्‍य करना है क्‍योंकि पाक हमेशा से चाहता है कि दोनों देशों के बीच शांति कायम रहे। फवाद की मानें तो अगर ऐसा हुआ तो फिर दोनों देश गरीबी को मात दे पाएंगे। हालांकि फवाद ने यह भी याद दिलाया कि पाकिस्‍तान, जम्‍मू कश्‍मीर का मुद्दा कभी नहीं भूल सकता है।

भारत सरकार ने 22 नवंबर को इस बात का ऐलान किया कि वह पंजाब के गुरदासपुर में स्थित करतारपुर कॉरिडोर अंतरराष्‍ट्रीय बॉर्डर तक निर्माण करेगी। सरकार के इस फैसले के साथ ही अब गेंद पाकिस्‍तान के पाले में है और अब पाक को फैसला लेना है। करतारपुर साहिब, पाकिस्‍तान के नारोवाल जिले में है जो पंजाब मे आता है। यह जगह लाहौर से 120 किलोमीटर दूर है। जहां पर आज गुरुद्वारा है वहीं पर 22 सितंबर 1539 को गुरुनानक देवजी ने आखिरी सांस ली थी।

Share.

About Author

Leave A Reply