चीन ने मुस्लिमों को खुफिया शिविरों में किया कैद- UN Report

0

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कमेटी की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने 10 लाख मुस्लिमों को खुफिया शिविरों में कैद कर रखा है। ये सभी उईगर मुस्लिम समुदाय के लोग है, जिन्हें काउंटर-एक्सट्रिमिज्म सेंटर्स में रखा गया है। यूएन कमेटी मेंबर गे मैकडॉगल ने यूएन में दो दिवसीय मीटिंग में इसका दावा किया है। मैकडॉगल ने इस रिपोर्ट के साथ गहरी चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि धार्मिक चरमपंथ का मुकाबला करने और सामाजिक स्थिरता को बनाए रखने के नाम पर चीन ने उईगर मुस्लिम प्रांत को एक बड़े आंतरिक शिविर के रूप में बदल दिया है।

यूएन में चीनी प्रतिनिधि यू जियान्हुआ ने अपने देश की आर्थिक विकास और जीवन स्तर समेत कई मुद्दों पर बात की लेकिन उईगर मु्स्लिमों के बार में कुछ नहीं कहा। वहीं, चीन सरकार की तरफ से भी अभी तक इस रिपोर्ट के बारे में कोई जिक्र नहीं किया गया है। दूसरी तरफ जेनेवा में सोमवार को शुरू होने वाली यूएन मीटिंग चीन के 50 प्रतिनिधियों ने इस सवाल का जवाब देने के लिए कहा है। हालांकि, इससे पहले बीजिंग ने इस प्रकार के शिविर होने की बात को नकार चुका है।

चीन के शिनजियांग प्रांत के में करीब 45 फीसदी उईगर मुस्लिम समुदाय के लोग रहते हैं। ये लोग शिनजियांग को अपना स्वायत्त क्षेत्र मानते हैं। इससे पहले भी चीन में इस्लाम के खिलाफ वहां की कम्युनिस्ट सरकार कई विवादित कदम उठा चुकी है। हाल ही की एक रिपोर्ट में कम्युनिस्ट राष्ट्र में सरकार के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन देखने को मिल रहा है। इस बार जब चीनी अधिकारियों ने नई मस्जिद को गिराने के आदेश दिया, तो चीन के उत्तर-पश्चिमी प्रांत के हजारों की संख्या में मुसलमान विरोध में उतर आए हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply