NIA कोर्ट ने आसिया अंद्राबी को 30 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा

0

एनआईए कोर्ट ने कश्‍मीर की अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी और दो अन्य को 30 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इनके खिलाफ दो अलग-अलग मामलों में कोर्ट में पेश किया गया था। 56 वर्ष की आसिया प्रतिबंधित संगठन दुख्‍तरान-ए-मिलात की मुखिया है और उसे एनआईए ने जेल में रखा था। राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी के दिल्‍ली स्थित हेडक्‍वार्टर पर आसिया अंद्राबी से पाकिस्तानी आतंकी हाफिज सईद के साथ उसके संबंधों को लेकर पूछताछ की जाती रही है।

अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी पर आरोप है कि उसने साल 2016 हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद कश्‍मीर घाटी में विरोध प्रदर्शन के लिए छात्रों को भड़काया था। आसिया को अप्रैल में गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तारी के बाद से रोज उसके और आतंकी संगठन लश्‍कर-ए-तैयबा के मुखिया हाफिज सईद के साथ जुड़ावों पर सवाल पूछे जाते रहे हैं। इसके पहले जांच में शामिल एक अधिकारी ने बताया था कि आसिया अंद्राबी और दोनों सहयोगियों द्वारा घाटी में भारत विरोधी भावनाओं को भड़काया जा रहा था।

आसिया करीब तीन दशक से कश्मीर को भारत से अलग करने की समर्थक रही है और घाटी में अलगाववादी गतिविधियों के अलावा पाकिस्तान की वकालत भी करती रही है। वही, एनआईए ने अपने डॉजियर में कहा था कि आसिया इंटरनेट के जरिए इस तरह का अभियान चलाती है जो पाक सेना और आईएसआई की मदद करता है और उसमें कश्‍मीर के लिए पाकिस्‍तान की तरफ से मिलने वाला आतंकी समर्थन भी शामिल है।

Share.

About Author

Leave A Reply