डर के साथ कॉमेडी का डोज देती है राजकुमार राव की ‘स्त्री’

0

इस शुक्रवार बॉलीवुड की मोस्ट अवेटेड फिल्म स्त्री ने सिनेमाघरों में दस्तक दी हैं। फिल्म के रिलीज हुए ट्रेलर के बाद से ही इसे लेकर लोगों के बीच जबरदस्त क्रेज नजर आया। इस फिल्म में पहली बार श्रद्धा कपूर और राजकुमार राव एक साथ स्क्रीन साझा करते नजर आ रहे हैं। फिल्म का निर्देशन अमर कौशिक के द्दारा किया गया हैं। तो चलिए एक नजर डालते है फिल्म के रिव्यू पर।

इस फिल्म की कहानी मध्यप्रदेश के चंदेरी जगह के ईर्द गिर्द घूमती हैं। यह जगह चंदेरी साड़ियों के लिए तो मशहूर है ही साथ ही अब ये जगह सभी की चर्चाओं में बना हुआ हैं। इसकी वजह है यहां की चुड़ैल। स्त्री नाम की एक चुड़ैल के कारण ये जगह फेमस हैं। जो आदमियों को उठा ले जाती है और कपड़े छोड़ जाती हैं। गांव में इस चुड़ैल का खौफ हैं। चुड़ैल को घर से दूर ऱखने के लिए गांववाले अपने घर के बाहर ओ स्त्री कल आना लिख देते हैं। इस गांव में ही विक्की (राजकुमार राव) टेलर का काम करता है जो अपनी सिलाई के कारण फेमस हैं।

कहानी में मोड़ तब आता है जब गांव में चार दिन का पूजा उत्सव का आयोजन किया जाता हैं। यह हर साल किया जाता हैं। तभी विक्की की मुलाकात श्रद्धा कपूर से होती हैं। लेकिन कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब विक्की के दोस्त (अपारशक्ति खुराना) और जना (अभिषेक बनर्जी) उसे ये बताते है कि उसकी गर्लफ्रेंड भूतनी हैं। जिसके कुछ समय बाद जना को स्त्री ले जाती हैं। तब रुद्र स्त्री के बारे में और उसके पीछे की सारी कहानी बताता हैं। क्या स्त्री को पकड़ पाने में विक्की सफल हो पाएगा। विक्की की गर्लफ्रेंड ही तो कही चुड़ैल नहीं हैं। विक्की कैसे अपने दोस्त की मदद करेगा। इन सभी सवालों के जवाब लेने के लिए आपको देखनी होगी ये फिल्म।

हॉरर फिल्म और उसमें कॉमेडी का तड़का लगाने में अमर कामयाब साबित हुए हैं। फिल्म के डायलॉग दमदार है जो दर्शकों के साथ सीधा कनेक्ट होते हैं। फिल्म में कलाकारों ने अपने किरदार के साथ इंसाफ किया हैं। फिल्म के गाने ठीक ठाक हैं। जिन्हें दर्शकों द्दारा पसंद किया जा रहा हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply