घर की खराब आर्थिक स्थिति के चलते पढ़ाई छोड़नी पड़ी- हेलेन

0


21 नवंबर को 81 साल की हो गई हैं. उन्होंने अपने करियर में कई हिट फिल्मों में काम किया है.

फिल्म डॉन के गाने ‘ये मेरा दिल डॉन का दीवाना’ पर हेलेन के डांस को कोई नहीं भूल सकता. आज भी लोग हेलेन के डांस को याद करते हैं. हालांकि, ये भी कहना गलत नहीं होगा कि हेलेन को फिल्म इंडस्ट्री में उतनी कामयाबी नहीं मिली जिसकी वो हकदार थीं. हेलेन को जीवन में जितनी शोहरत मिली उसके पीछे एक लंबा संघर्ष भी है.

हेलेन का जन्म 21 नवंबर 1938 में म्यांमार में हुआ था. बाद में उनका परिवार भारत आ गया था. द कपिल शर्मा शो में हेलेन ने उस घटना का भी जिक्र किया. हेलेन ने बताया था द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान उनके पिता की मौत हो चुकी थी और उनके परिवार के पास देश के छोड़ने के अलावा कोई ऑप्शन नहीं था. हेलेन तब सिर्फ 3 साल की थीं और उनके परिवार को म्यांमार से भारत आने में नौ महीने का समय लग गया था. इस दौरान उन्होंने अपने भाई को भी खो दिया था.

हेलेन ने बताया था कि उनका परिवार सबसे पहले असम पहुंचा था. इसके बाद वह कोलकाता पहुंच गए थे. घर की खराब आर्थिक स्थिति के चलते उन्हें अपनी पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी और बीच में ही काम करना पड़ा था. हेलेन की मां पेशे से नर्स थीं और उनकी कमाई से घर चलाना मुश्किल था.

हेलेन ने बताया कि उन्होंने मणिपुरी, भरतनाट्यम जैसी कई डांस फॉर्म सीखे और फिल्मों में बैकग्राउंड डांसर के तौर पर काम करना शुरू कर दिया. उन्होंने बताया था कि उनका उद्देश्य परिवार के लिए कुछ पैसे कमाना था. देखते ही देखते हेलेन ने फिल्म इंडस्ट्री में जगह बना ली जब सिर्फ कहा जाता था- ‘डांस तो सिर्फ हेलेन करती हैं’.

Share.

About Author

Leave A Reply