अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव में प्रियंका चोपड़ा की ‘पहुना’ ने जीते दो पुरस्कार

0

अदाकारा प्रियंका चोपड़ा की बतौर निर्माता पहली सिक्किमी फिल्म ‘पहुना’ को जर्मनी के शलिंग्ल अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव में दो पुरस्कारों से सम्मानित किया गया। पाखी टॅायरवाला के लेखन तथा निर्देशन में बनी इस फिल्म को सर्वश्रेष्ठ फिल्म (ज्यूरी चॉइस) और अंतरराष्ट्रीय फीचर फिल्म की श्रेणी में प्रोफेशनल ज्यूरी द्वारा ”विशेष उल्लेख” पुरस्कार दिए गए।

प्रियंका चोपड़ा और उनकी मां डॉक्टर मधु चोपड़ा के बैनर ‘पर्पल पेबल पिक्चर्स’ तले बनी फिल्म ‘पहुना’ को दो से पांच अक्टूबर के बीच आयोजित उत्सव में काफी सराहा गया। मधु ने कहा कि यह फिल्म हमेशा उनके प्रोडक्शन हाउस की खास फिल्म रहेगी। ‘टोरंटो अंतरराष्ट्रीय फिल्म उत्सव’ (टीआईएफएफ) में पिछले साल ‘पहुना’ का विश्व स्तर पर प्रीमियर किया गया था।

बतौर निर्माता प्रियंका चोपड़ा नेकहा कि उनकी पहली सिक्किमी फिल्म ‘पहुना’ पर उन्हें शुरुआत से ही भरोसा था। चोपड़ा ने ट्विटर पर लिखा, ‘पहुना’ एक ऐसी फिल्म, जिस पर मुझे शुरू से ही भरोसा था। विश्व भर में इसे मिल रही प्रतिक्रिया से खुश हूं। हमारी फिल्म के लिए आगे खजाने में क्या-क्या है यह देखने का इंतजार नहीं हो रहा।

‘सर्वश्रेष्ठ फिल्म (ज्यूरी चॉइस) और श्लिंगेल फिल्म महोत्सव में विशेष उल्लेख के लिए पर्पल पेबल पिक्चर्स टीम को बधाई। निर्देशक पाखी ए टायरवाला ने फिल्म में दृढ़ विश्वास दिखाने के लिए प्रियंका चोपड़ा का धन्यवाद किया। ‘पहुना’ तीन नेपाली बच्चों की कहानी है जो अपने माता-पिता से बिछड़ जाते हैं और नेपाल में माओवादी आंदोलन से किसी तरह बच कर सिक्किम पहुंचते हैं। पिछले साल ‘टोरंटो अंतरराष्ट्रीय फिल्म उत्सव’ (टीआईएफएफ) में ‘पहुना’ का विश्व स्तर पर प्रीमियर किया गया था।

Share.

About Author

Leave A Reply