जहरीली हुई दिल्ली की हवा, बिछी धूल की चादर

0

राजधानी में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गई है। जिसके तहत दिल्ली को आज धुंध ने घेर लिया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 337 दर्ज किया गया जो बेहद खराब श्रेणी में आता है और यह इस मौसम का सर्वोच्च सूचकांक है। दिल्ली में करीब 31 इलाकों में वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ पाई गई जबकि दो इलाकों में वायु गुणवत्ता का स्तर ‘गंभीर’ पाया गया।

सीआरआरयू मथुरा रोड और द्वारका सेक्टर आठ में प्रदूषण का स्तर क्रमश: 414 और 402 की ‘गंभीर’ श्रेणी में दर्ज किया गया। आंकड़ों के अनुसार, आनंद विहार, डीटीयू, मुंडका, नरेला, नेहरू विहार और रोहिणी में वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ दर्ज की गई। उल्लेखनीय है कि 0 से 50 के बीच एक्यूआई अच्छा माना जाता है, 50 और 100 के बीच संतोषजनक, 101 और 200 के बीच मध्यम श्रेणी का, 201 और 300 के बीच खराब, 301 और 400 के बीच बेहद खराब और 401 से 500 के बीच एक्यूआई गंभीर माना जाता है।

दिल्ली में एक दिन पहले दशहरे के मौके पर आतिशबाजी के कारण भी आबोहवा खराब हुई। अधिकारियों ने पर्यावरण के अनुकूल जश्न मनाने की अपील की थी लेकिन इसके बावजूद जमकर आतिशबाजी की गई। बुधवार और वीरवार को वायु गुणवत्ता गिरकर ‘‘बेहद खराब’’ श्रेणी में पहुंच गई थी जो अधिकारियों के लिए चिंताजनक थी।

Share.

About Author

Leave A Reply