उन्नाव: खेतों पर पड़ा मिला दवाइयों का जखीरा, देखकर सीएमओ भी दंग

0

जहां एक ओर सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने को लेकर लगातार कोशिशें कर रही हैं वहीं स्वास्थ्य विभाग है कि सुधरने का नाम ही नहीं ले रहा है। ताजा मामला प्रदेश के उन्नाव जिले का है जहां एक बार फिर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई है। यहां अस्पताल की ओर से मुफ्त में दी जाने वाली दवाओं का जखीरा खेतों में पड़ा मिला है। इतनी बड़ी मात्रा में अस्पताल की दवाएं मिलने से अस्पताल कर्मियों व स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया। हालांकि सीएमओ और उनकी टीम ने मौके पर पहुंचकर फेंकी गई सभी दवाओं को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

इस मामले में उन्नाव के सीएमओ डॉ. लालता प्रसाद ने बताया कि उन्हें खेतों में लावारिस पड़ी दवाएं मिली हैं। ये दवाइयां कहां से आई हैं और किसने फेंकी है इस बारे में जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि जांच के आदेश डिप्टी सीएमओ को दिए है। इस मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के अनुसार जो दवाइयां मौके पर मिली है, उनमें बुखार, एसीडीटी, खांसी, दस्त, दर्द, सिरदर्द व अन्य बीमारियों की दवाइयां हैं। गोलियों के साथ मौके पर कुछ इंजेक्शन व पीने वाली दवाईयां भी मिली हैं। मामले की जानकारी जब पुलिस को दी गई तो पुलिस भी जांच में जुट गई है।

वहीं सड़क पर लावारिस पड़ी इन दवाइयों के मिलने से लोगों ने रोष जताया। लोगों का कहना है कि अस्पताल में जब इलाज के लिए जाते हैं तो चिकित्सक तो पर्ची पर दवाई लिख देते हैं, लेकिन अस्पताल में जो सस्ती दवाई होती है वे तो मिल जाती है, लेकिन महंगी दवाई नहीं मिलती। जवाब मिलता है ये दवाई बाहर से मिलेगी।

Share.

About Author

Leave A Reply