‘अब धर्मयुद्ध होगा’ शिवपाल का अखिलेश पर निशाना

0

समाजवादी पार्टी से अलग होकर नई पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह ने एक बार फिर से पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। समाजवादी सेक्यूलर मोर्चा के प्रमुख शिवपाल यादव ने बीते मंगलवार को अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि, वह अब रावण, कंस व दुर्योधन जैसे लोगों से धर्मयुद्ध के लिए तैयार हैं। इस युग में भी कुछ लोगों को सत्ता का मद है। महाभारत की तरह अब एक बार फिर धर्मयुद्ध होगा और ऐसे लोगों का अहंकार खत्म किया जाएगा।

शिवपाल ने इशारों-इशारों में ही बिना नाम लिए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की तुलना कंस से कर दी। समाजवादी सेकुलर मोर्चा बनाने के बाद लखनऊ में पहली बार किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में बोलते हुए शिवपाल ने कहा कि, ‘महाभारत धर्म युद्ध था। पांडवों ने तो अहंकारी दुर्योधन से पांच गांव मांगे थे, मैंने तो सिर्फ बड़ों का सम्मान मांगा। उसी सम्मान के लिए मैंने मोर्चे के जरिए धर्मयुद्ध का संकल्प लिया है।

श्रीकृष्ण वाहिनी के प्रतिनिधि सम्मेलन में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि, ‘कंस ने धर्म का पालन नहीं किया। बहन, बहनोई और पिता को कैद में डाल दिया। आज भी बहुत से कंस पैदा हो जाते हैं, एक कंस आज भी है। शिवपाल ने कहा, धर्म के रास्ते में संघर्ष तो होता ही है। मर्यादा पुरुषोत्तम राम को भी चौदह साल का वनवास मिला। रावण शक्तिशाली राजा था लेकिन राम से हारा और लंका भी जली। अधर्म के रास्ते पर चलने के कारण कंस भी मारा गया।’

शिवपाल ने अखिलेश पर हमला करते हुए कहा, ‘जब ताकत मिलती है तो कभी-कभी अभिमान आ जाता है लेकिन हमें रावण और कंस की हालत याद रखनी चाहिए।’ शिवपाल सिंह ने कहा कि, सपा को एकजुट रखने के लिए मैं जो कुछ कर सकता था मैंने किया लेकिन समाजवादी पार्टी को उसकी मूल विचारधारा की ओर लौटने में मेरे सारे प्रयास व्यर्थ साबित हुए। पार्टी में जिन्हें न्याय नहीं मिल रहा था, अपमानित हो रहे थे, उनके लिए मोर्चा बनाया गया है। बहुत दुविधा में था, सोच रहा था कि दोनों का नुकसान होगा इसीलिए दो साल इंतजार किया। फिर नेताजी सहित परिवार के बड़ों का आशीर्वाद लेकर बहुत सोच-समझकर यह कदम उठाया है और अब पीछे नहीं हटूंगा।’

Share.

About Author

Leave A Reply