Delhi Election Results 2020: जीत के बाद बोले सिसोदिया- केजरीवाल के काम पर लगी मुहर

0

Delhi Election Results 2020 Reactions: दिल्ली चुनाव के नतीजे आने लगभग साफ हो चुके हैं और तीसरी बार अरविंद केजरीवाल की अगुवाई में आम आदमी पार्टी बड़े बहुमत के साथ सरकार बना रही है. नतीजों में AAP को 60 से ज्यादा सीटें मिलती दिख रही हैं तो बीजेपी 10 से कम सीटों पर सिमट रही है. कांग्रेस इस बार भी खाता खोलने में विफल साबित हुई है.

  • रुझानों में AAP बहुमत के पार
  • बीजेपी को 15 सीटों पर बढ़त
  • कांग्रेस नहीं खोल पाएगी खाता?

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती शुरू हो गई है. शुरुआती रुझानों में आम आदमी पार्टी को बड़ी बढ़त हासिल हो चुकी है. सत्ताधारी पार्टी AAP रुझाने में 55 से ज्यादा सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं, वहीं बीजेपी के खाते में 15 के आस-पास सीटें जाती दिख रही हैं. पिछले चुनाव में खाते भी नहीं खोल पाई कांग्रेस इस बार भी खाता खोलती नहीं दिख रही है.

आखिर मनीष को मिली जीत

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कड़ी मशक्कत के बाद पड़पड़गंज से मिली जीत पर कहा कि यह काम और शिक्षा की जीत है, देश में पहली बार ऐसा हो रहा है. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने नफरत की राजनीति फैलाने की कोशिश की लेकिन हमारे वोटर और दिल्लीवासी बंटे नहीं. सिसोदिया ने कहा कि बीजेपी की नफरत वाली राजनीति हार गई है.

मनीष ने कहा कि मुझे पड़पड़गंड का विधायक एक बार फिर से बनने पर गर्व है और यह अरविंद केजरीवाल के काम की जीत है क्योंकि उन्होंने दिल्ली का बेटा बनकर जनता के लिए विकास के काम यहां किए थे. मतगणना के शुरुआती चरणों में कई बार मनीष को बीजेपी से टक्कर मिलती रही और वह वोटों में पिछड़ते नजर आ रहे थे, आखिरकार उन्हें मुश्किल से दो हजार वोटों के अंतर से जीत मिली है.

‘फ्री के चक्कर में पड़े दिल्लीवाले’

चुनाव प्रचार के दौरान लगातार शाहीन बाग पर धारदार बयानबाजी करने वाले बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने चुनाव नतीजों के बाद हार स्वीकार करते हुए कहा कि हम नतीजों पर गौर करेंगे. प्रवेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली वाले फ्री के प्रभाव में बह गए. हम 5 साल दिल्ली की जनता के मुद्दों को विपक्ष के रूप में उठाते रहेंगे.

बीजेपी सांसद परवेश वर्मा ने कहा कि हम दिल्ली सरकार की कमियों को जनता के सामने अच्छे से नहीं रख पाए और इसके लिए आगे और मेहनत करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि दिल्ली का चुनाव शिक्षा और विकास के मुद्दे पर हुआ होता तो दिल्ली के शिक्षा मंत्री नहीं हार रहे होते. वर्मा ने कहा कि दिल्लीवासी झूठे विज्ञापन और फ्री के प्रवाह में बह गए हैं क्योंकि तीन महीनों से बिजली-पानी का बिल फ्री आ रहा था, बस की यात्रा महिलाओं के लिए मुफ्त थी. परवेश ने कहा कि दिल्ली की जनता को बधाई के साथ कार्यकर्ताओं को भी बधाई देता हूं जिन्होंने दिन-रात मेहनत की है.

‘दिल्ली ने नफरत को हराया’

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली की जनता ने नफरत की राजनीति की नकारा है और प्यार का संदेश दिया है. उन्होंने कहा कि नतीजों ने पूरे देश को संदेश भेजा है कि अब सिर्फ काम के नाम पर राजनीति होगी. उन्होंने कहा कि मनीष और बाकी नेता भी चुनाव जीतेंगे, अभी इंतजार करना होगा. संजय सिंह ने कहा कि AAP को 60 से ज्यादा सीटों पर जीत मिलेगी.

रुझानों पर ट्वीट करते हुए AAP के रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने ट्ववीट कर दिल्ली की जनता को बधाई दी. उन्होंने लिखा कि भारत की आत्मा की रक्षा में साथ देने के लिए दिल्ली की जनता का आभार.

दिल्ली से सांसद  गौतम गंभीर ने कहा कि हार की समीक्षा की जाएगी. उन्होंने कहा कि जनता को शायद हम भरोसे में नहीं ले पाए लेकिन हमारे प्रयासों में कोई कमी नहीं रही. उन्होंने कहा कि केजरीवालजी से उम्मीद है कि वो दिल्ली को विकास के पथ पर आगे ले जाएंगे. गंभीर ने कहा कि दिल्ली में बीजेपी को और मेहनत की जरूरत है और हमें जमीन पर उतरकार काम करना होगा.

‘AAP पर बलिदान हुई कांग्रेस’

रुझानों पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि हमारी पार्टी ने शून्य से शिखर तक का सफर तय किया है और हमनें कई उतार-चढ़ाव देखे हैं. उन्होंने कहा कि पिछली बार से तो हम अभी ही आगे चल रहे हैं जैसी हार पिछली बार हमें मिली थी. संबित ने कहा कि आम आदमी पार्टी से लचीलापन सीखना चाहिए, कांग्रेस से बलिदान सीखना चाहिए क्योंकि उन्होंने अपने बड़े भाई (AAP) लिए अपना सबकुछ कटवा दिया लेकिन बीजेपी से भी परिश्रम सीखने की जरूरत है.

शाहीन बाद के मुद्दे पर संबित पात्रा ने कहा कि मनीष सिसोदिया शाहीन बाग के साथ खड़े थे और रुझानों में वो पीछे दिख रहे हैं. उन्होंने कहा कि जो नारे वहां लगे वो किसी भी रूप में ठीक नहीं है और हम आज भी उसके साथ खड़े नहीं हैं. संबित ने कहा कि भविष्य में केजरीवाल के सामने किसी उतारा जाए इस पर जरूर मंथन किया जाना चाहिए.

बीजेपी को था जीत का भरोसा

रुझानों पर दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने कहा कि मेरी जीत का आंकड़ा पिछली बार से ज्यादा रहने वाला है. वहीं मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में जो भी नतीजे आएंगे तो प्रदेश अध्यक्ष के नेता मेरी ही जिम्मेदारी होगी, लेकिन काम मिलकर सभी कार्यकर्ता करते हैं. उन्होंने रुझानों पर कहा कि अभी कुछ कहना जल्दबाजी है और वोटों का अंतर काफी कम है. तिवारी ने कहा कि कुछ घंटे में सब साफ हो जाएगा. हालांकि वो अब भी बीजेपी की जीत की आस लगाए बैठे हैं.

कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने रुझानों पर कहा कि कांग्रेस भले ही चुनाव हार रही है लेकिन हौसला नहीं हारे हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने दिल्ली में नकारात्मक राजनीति की है और उनके नेता लगातार भड़काऊ बयान देते रहे. आम आदमी पार्टी पर नायक ने कहा कि यह लोग भी जनता के साथ खड़े नहीं मिलते. उन्होंने कहा कि हमारा कोर वोटर दिल्ली में आम आदमी पार्टी की ओर जाता दिख रहा है और उसे बांधे रखने की कोशिश आगे जारी रहेगी.

‘बीजेपी की तो लंका जला डाली’

रुझानों पर आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता जासमीन शाह ने कहा कि बीजेपी ने हनुमान चालिसा पढ़ने से इन्होंने भगवान का अपमान किया है और बजरंगबली ने दिल्ली में बीजेपी की लंका जला डाली है. उन्होंने दावा किया कि पार्टी दिल्ली में 60 से ज्यादा सीटें जीतेगी और रुझान और साफ होने वाले हैं. शाह ने कहा कि बीजेपी नेताओं ने हनुमानजी का इतना अनुमान किया है कि ये लोग जनता को मुंह दिखाने लायक नहीं रहेंगे.

नतीजों से पहले दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बीजेपी की जीत का दावा किया है तो वहीं डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया आम आदमी पार्टी की  बड़ी जीत को लेकर आश्वस्त नजर आए. रुझानों पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी सांसद रमेश विधूड़ी ने कहा कि केजरीवाल ने पांच साल कुछ काम नहीं किया लेकिन आखिर में बिजली की 200 यूनिट फ्री देने का फायदा उन्हें मिल सकता है.

नतीजों के दिन नेता मंदिर-मंदिर घूमते भी नजर आए. विजय गोयल से लेकर मनोज तिवारी ने पूजा-अर्चना कर बीजेपी की जीत की दुआ मांगी. वहीं मनीष सिसोदिया भी सुबह-सुबह अपने परिजनों का आशीर्वाद लेकर घर से निकल चुके हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी घर से पार्टी दफ्तर की ओर कूच कर गए हैं. रुझानों के बाद से आम आदमी पार्टी के दफ्तर में जश्न का माहौल है और मिठाई से लेकर गुब्बारों का इंतजाम भी कर लिया गया है.

Share.

About Author

Leave A Reply