पीएम मोदी ने IIT बॉम्बे में दिए सफलता के मंत्र

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज IIT बॉम्बे में इंजिनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर चुके छात्रों को संबोधित किया। पीएम मोदी आईआईटी बॉम्बे के 56वें दीक्षांत समारोह में शामिल होने यहां पहुंचे और इस दौरान उन्होंने IIT बॉम्बे में इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए 1000 करोड़ रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने आईआईटी के स्टूडेंट्स से सीधा संवाद किया और उन्हें सफलता पाने के मंत्र भी दिए।

अपनी असफलता की उलझन को मन से निकालें और आकांक्षाओं पर फोकस करें। ऊंचे लक्ष्य, ऊंची सोच आपको अधिक प्रेरित करेगी, उलझन आपके टैलेंट को सीमाओं में बांध देगी.’ पीएम ने कहा कि सिर्फ आकांक्षाएं होना ही काफी नहीं है, लक्ष्य भी काफी अहम होता है।

पीएम ने कहा कि पूरा देश आईआईटी छात्रों से प्रेरणा लेता है और विदेशों में भी हमारे छात्रों ने कामयाबी के परचम लहराए हैं। उन्होंने IIT से पास-आउट हुए स्टूडेंट्स को बधाई देते हुए कहा असली चुनौती तो बाहर की दुनिया में आपका इंतज़ार कर रही है। आपने आज तक जो हासिल किया और आगे जो करेंगे, उससे आपकी अपनी, आपके परिवार की और 125 करोड़ देशवासियों की उम्मीदें जुड़ी हैं।

पीएम ने स्टार्ट अप योजना की चर्चा भी की। उन्होंने कहा, ”स्टार्ट अप की जिस क्रांति की तरफ देश आगे बढ़ रहा है, उसका एक बहुत बड़ा जरिया हमारे आईआईटी संस्थान और छात्र हैं. आज पूरी दुनिया IIT को यूनीकॉर्न स्टार्ट-अप की नर्सरी मान रही है। ये एक तरह से टेक्नोलॉजी का आईना है जिसमें दुनिया को भविष्य नजर आता है.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईआईटी को न्यू इंडिया का स्तंभ बताते हुए कहा, ”आईआईटी को देश और दुनिया इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के नाम से जानती है, लेकिन आज हमारे लिए इनकी परिभाषा थोड़ी बदल गई है। ये सिर्फ टेक्नोलॉजी की पढ़ाई से जुड़े संस्थान नहीं रह गए हैं, बल्कि आईआईटी आज इंडियाज इंस्ट्रूमेंट और ट्रांसफोर्मेशन बन गए हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply