ननकाना साहिब गुरुद्वारे में तोड़फोड़ की भारत ने की कड़े शब्दों में निंदा, कहा – पाक सरकार सिख श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए करे जल्द कार्रवाई

0

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा कि मैं अपील करता हूं कि पाक पीएम इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकलवाने में मदद करें.

ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पथराव का भारत सरकार ने कड़े शब्दों में निंदा की है. विदेश मंत्रालय ने पाक सरकार से आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग भी की. उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से  गुरुद्वारे में फंसे श्रद्धालुओं को निकालने के लिए अपील की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं अपील करता हूं कि पाक पीएम इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकलवाने में मदद करें.

बता दें खबर आई थी कि ननकाना साहिब गुरुद्वारे को सैकड़ों की संख्या में आए उपद्रवियों ने घेरा हुआ है. कुछ लोगों ने गुरुद्वारे पर पत्थबाजी भी की है. वहीं, विदेश मंत्रालय ने ननकाना साहिब पर हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है. साथ ही पाकिस्तान सरकार से मांग की है कि वह इस मामले में तत्काल प्रभाव से कमद उठाए. 

विदेश मंत्रालय ने इस घटना के सामने आने के बाद एक बयान जारी कर इसकी कड़े शब्दों में निंदा की है. साथ मंत्रालय ने पाकिस्तान सरकार से सिख श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए हर संभव कार्रवाई करने की अपील की है. एक अन्य ट्वीट में विदेश मंत्रालय ने कहा कि ननकाना साहिब में हुए उपद्रव की हम निंदा करते हैं. मंत्रालय ने कहा कि उन बदमाशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए जो इस पवित्र गुरद्वारे में बेअदबी में शामिल हैं और जिन्होंने अल्पसंख्यक सिखों पर हमला किया है. मीडिया की खबरों के अनुसार गुरद्वारा ननकाना साहिब पर एक भीड़ ने हमला किया. 

वहीं, शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध किया कि वह यह मामला अपने पाकिस्तानी समकक्ष के साथ उठाएं. विदेश मंत्रालय के मुताबिक पाकिस्तान में अल्पसंख्यक सिख समुदाय के सदस्य पवित्र शहर ननकाना साहिब में हिंसक कृत्य के शिकार हुए हैं. पाकिस्तान के इस शहर में सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव का जन्म हुआ था. 

मिली जानकारी के अनुसार उपद्रवियों ने गुरुद्वारे के बाहर सिख विरोधी नारे भी लगाए. इससे पहले लोगों ने गुरुद्वारे पर पथराव भी किया था. पथराव में उस लड़के के परिवार ने भी हिस्सा लिया था जिनपर सिख लड़की को अगुवा करने का आरोप है. 

Share.

About Author

Leave A Reply