“स्थिर सरकार की जरूरत, ‘खिचड़ी’ सरकार की नहीं” – महाराष्ट्र में CM पद की शपथ लेने के बाद देवेंद्र फडणवीस बोले.

0
राजभवन में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने दोनों नेताओं को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.

शिवसेना के हाथ आ रही महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री की कुर्सी बीजेपी ने रातों-रात ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ करके छीन ली है. हैरानी इस बात की है कि इस बात की भनक न तो शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को रही होगी, न कांग्रेस को. यहां तक कि अंदाजा लगाया जा रहा है कि बीजेपी के भी कई नेताओं को नहीं पता रहा होगा कि रात में महाराष्ट्र में इस तरह का तख्ता पलट हो जाएगा.

महाराष्ट्र के सीएम के रूप में फिर से शपथ लेने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ”लोगों ने हमें एक स्पष्ट जनादेश दिया था, लेकिन परिणाम के बाद शिवसेना ने अन्य दलों के साथ सहयोगी होने की कोशिश की, जिसके परिणामस्वरूप राष्ट्रपति शासन लगाया गया. महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार की जरूरत है, एक ‘खिचड़ी’ सरकार की नहीं.”

महाराष्ट्र में अचानक बड़ा उलटफेर होने के बाद जहां सियासी गलियारों में तमाम तरह की चर्चाएं चल रही हैं. इस बीच पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ”महाराष्ट्र के सीएम और डिप्टी सीएम के रूप में शपथ लेने पर क्रमश: देवेंद्र फडणवीस जी और अजीत पवार जी को बधाई. मुझे विश्वास है कि वे महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य के लिए लगन से काम करेंगे.”

वहीं, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) को दोबारा महाराष्ट्र के सीएम पद की शपथ और अजित पवार को डिप्टी सीएम पद की शपथ लेने के बाद बधाई दी है. अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘देवेंद्र फडणवीस जी को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और श्री अजित पवार को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर हार्दिक बधाई. मुझे विश्वास है कि यह सरकार महाराष्ट्र के विकास और कल्याण के प्रति निरंतर कटिबद्ध रहेगी और प्रदेश में प्रगति के नये मापदंड स्थापित करेगी.’

शनिवार की सुबह तक महाराष्ट्र में कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने की बात कही जा रही थी. तीनों दल उद्धव ठाकरे को सीएम बनाने पर सहमत भी हो गए थे और चर्चा थी कि आज औपचारिक तौर पर वे राज्यपाल से मिलकर दावा पेश करते, लेकिन इसी बीच राज्य में बड़ा उलटफेर हो गया.

Share.

About Author

Leave A Reply